जानिए मुंबई शहर के बाद कोने शहर में गणेश चौथ का सबसे बड़ा मेला लगता है

जानिए मुंबई शहर के बाद कौनसे शहर में गणेश चौथ का सबसे बड़ा मेला लगता है।

गणेश चतुर्थी का त्यौहार पूरे देश में बड़े ही धूम-धाम के साथ मनाया जाता है। इस साल गणेश चतुर्थी 31 अगस्त, बुधवार को मनाया जाएगा। खासकर महाराष्ट्र में गणेश चतुर्थी का यह पर्व लगभग 10 दिनों तक चलता है।

चन्दौसी में गणेश चौथ मेला का आयोजन कई दशक से होता चला आ रहा है। इसकी नीव स्व. गिरिराज किशोर जी ने रखी थी। उनकी बनाई कमेटी आज भी निर्विवाद तरीके से इसका आयोजन करती चली आई है। इस मेले ने चन्दौसी को नई पहचान दे दी। महाराष्ट्र के बाद उत्तर भारत में यदि गणेश उत्सव होता है तो वह चन्दौसी नगरी है।

 

1961 में चालू हुई यह यात्रा का 2022 में अनवरत जारी है। ऐसे में कुछ बेहतर और कुछ अलग होना लाजिमी है। तीन साल पहले गणेश मंदिर के सामने तकरीबन 145 फीट ऊंची गणेश मूर्ति को बनाकर इतिहास रचा गया। इसे उत्तर भारत की सबसे बड़ी मूर्ति भी कह सकते हैं। यह भी कहा जाता है कि यह एशिया की सबसे बड़ी गणेश मूर्ति है।

एशिया की सबसे बड़ी गणेश मूर्ति

इसी तर्ज पर इस बार 31 अगस्त को जो शोभा यात्रा निकलेगी उसके लिए 14 फीट के स्वर्ण जैसी आभा वाले गणेश जी की मूर्ति बनाई जा रही है। ढाई माह पहले चन्दौसी के स्थानीय कलाकारों ने मूर्ति बनाना शुरू किया। दो दर्जन से ज्यादा कारीगरों ने हर दिन घंटों मेहनत कर इसे शानदार अंदाज में तैयार कर लिया है।

इस बार सोने की मूर्ति को यात्रा निकलेगी 

गणेश जी की सोने की मूर्ति

ये मेला 31 अगस्त से 17 सितंबर तक चलेगा 

 

 

 

  •  

 

 

 

<