संवेगात्मक बुध्दि या भावनात्मक बुध्दि क्या है,? इसके निदर्श कितने प्रकार के होते हैं? Emotional intelligence in hindi

संवेगात्मक बुध्दि या भावनात्मक बुध्दि 
इसे सांवेगिक बुध्दि भी कहा जाता है। मनोविज्ञान में संवेगात्मक बुध्दि पर सबसे अधिक कार्य करने का श्रेय डेनियल गोलमैन को जाता है। डेनियल गोलमैन ने संवेगात्मक बुध्दि के संदर्भ में कई सिध्दांत प्रतिपादित किये। संवेगात्मक बुध्दि दो शब्दों से मिलकर बनी है जो संवेगात्मक और बुध्दि हैं।  संवेगात्मक शब्द का सम्बन्ध संवेगों से और बुध्दि शब्द का सम्बन्ध मानसिक योग्यता से है।  संवेगात्मक बुध्दि वह बुध्दि है जहां व्यक्ति अपने संवेगों को नियंत्रण करने,  अपने विचारों को स्पष्ट और उपयोगी बनाने तथा उनका ठीक ढंग से प्रबंधन कर सकते हैं। 
संवेगात्मक बुध्दि के सम्बन्ध में अनेक मनोवैज्ञानिकों ने विभिन्न अवधारणाएं दी जिसमें कुछ मनोवैज्ञानिकों ने निम्न आधार पर संवेगात्मक बुध्दि को परिभाषित किया। 
डेनियल गोलमैन ने संवेगात्मक बुध्दि को प्रमुख रूप से निम्न प्रकार परिभाषित किया “संवेगात्मक बुध्दि योग्यताओं के कौशलों का एक ऐसा समुच्चय है जो नेतृत्व निष्पादन को बढ़ाता है। “अर्थात गोलमैन के अनुसार संवेगात्मक बुध्दि  योग्यताओं का ऐसा निचोड़ है जो व्यक्ति में भावनाओं,संवेगों और योग्यताओं के नियंत्रण और प्रबंधन के द्वारा उसमें नेतृत्व की क्षमता का विकास करता है। 
संवेगात्मक बुध्दि को केवी पेटराईड्स ने भी परिभाषित किया और उसकी परिभाषा निम्न प्रकार दी। “संवेगात्मक बुध्दि व्यक्तित्व के निम्न स्तरों पर स्थित संवेगात्मक स्व प्रत्यक्षीकरणों का एक समूह है। “अर्थात् पेटराईड्स ने संवेगात्मक बुध्दि को संवेगात्मक स्व प्रत्यक्षीकरण का समूह माना। 
संवेगात्मक बुध्दि के निदर्श ( Models of Emotional intelligence) संवेगात्मक बुध्दि के संदर्भ में उसकी परिभाषा और अर्थापन के साथ-साथ संवेगात्मक बुध्दि से सम्बन्धित तीन प्रकार के मॉडल या निदर्श भी प्रस्तुत किए गए। 
संवेगात्मक बुध्दि के तीन प्रमुख निदर्श निम्न प्रकार हैं। 1- योग्यता का निदर्श  ( Ability model) 2- शीलगुण का निदर्श  ( Trait Model)3- मिश्रित निदर्श  (Mixed model) 


Ghostwriter Doktorarbeit
Youtube Channel Image
Join Our WhatsApp Group सभी महत्वपूर्ण अपडेट व्हाट्सएप पर पायें!